Yogesh Mishra

जानिये : दिव्य आध्यात्मिक ऊर्जा के हस्तान्तरण व रूपांतरण किसके द्वारा होता है !

ऊर्जा के हस्तान्तरण के लिए ज्ञान और ईश्वर की कृपा होना आवश्यक है. उदाहरण के लिए बिना जाने विदुत के तार को सीधे पकड़ लिया जाये तो व्यक्ति को करेंट लग कर करंट की क्षमता के अनुसार शारीरिक नुकसान होता है. विद्युतीय करंट उदासीन है , उसका कर्म है केवल …

Read More »

जानिये कैसे आप नकारात्मक ऊर्जा का सकारात्मक आध्यात्मिक ऊर्जा में रूपांतरण कर सकते हैं ?

पूर्व जन्म के संचित कर्मों के कारण हमारे अन्दर जन्म से ही कुछ सकारात्मक और नकारात्मक ऊर्जा होती है | जैसे कि ऊर्जा को समाप्त नहीं किया जा सकता, इसलिए हमारे पूर्व जन्म के कर्म, वर्तमान जन्म को हस्तांतरित हो जाते है | कर्मों का यह चक्र तब तक चलता …

Read More »

जानिये आध्यात्मिक ऊर्जा क्या है, कैसे कार्य करती है ? और मनुष्य इसे कैसे प्राप्त कर सकता है ?

ऊर्जा अर्थात कार्य सम्पादन की क्षमता | भौतिक विज्ञान के अनुसार पदार्थ का एक गुण है जिसका हस्तांतरण पारस्परिक क्रियाओं द्वारा संभव है, किसी अन्य स्वरुप में रूपांतरण संभव है किन्तु उत्पत्ति और विनाश नहीं किया जा सकता है | जैसे कि हम सभी जानते है इस ब्रह्माण्ड में जिसका …

Read More »

मेदिनी ज्योतिष की गणना के अनुसार भारत वर्ष 2047 में पुनः हिंदू राष्ट्र घोषित होगा । योगेश मिश्र

भारत 1971 अघोषित हिंदू राष्ट्र था क्योंकि 1947 में भारत का बटवारा इसी शर्त पर हुआ था कि हिंदू और मुसलमानों की संस्कृति अलग –अलग है अत: हिंदू मुसलमान एक साथ नहीं रह सकते | मुसलमानों के लिए हिंदुस्तान का एक अंग काट कर पाकिस्तान के नाम पर दे दिया …

Read More »

कुंडली में नीच ग्रह से घबराएँ नहीं , ये आपको राजयोग भी दे सकता है । योगेश मिश्र

ज्योतिष विद्या में अक्सर सुनने में आता है कि आपका यह ग्रह नीच का है और लोग उसे सुनकर डर जाते हैं या अल्पज्ञानी ज्योतिषीयों द्वारा डरा दिये जाते हैं । अगर आपकी कुंडली में कोई ग्रह नीच राशि में बैठा हो या शत्रु भाव में हो तो आम धारणा …

Read More »

जानिये: क्या आपको शेयर बाजार में दाव खेलना चाहिए या नहीं । जरूर पढ़ें । महत्वपूर्ण जानकारी ।

आजकल हर कोई यह जानता है कि “शेयर व सट्टा बाजार” भी धनार्जन के लिए अच्छा माध्यम है। लेकिन यह ध्यान रखें कि जन्म कुण्डली के अनुसार प्रत्येक व्यक्ति न तो शेयर क्रय कर सकता है और न ही सट्टा खेल सकता है। प्रत्येक व्यक्ति की लॉटरी भी नहीं निकल …

Read More »

जानिये: संगीत से कैसे अति गंभीर रोगों का निवारण होता है ? जरूर पढ़ें ।

संगीत तरंगों का प्रभाव जड़-चेतन पर समान रूप से पड़ता है | लय और ताल में बंधे हुए स्वर प्रवाह को संगीत कहते हैं | यह गायन के रूप में स्वर प्रवाह के साथ ही जुड़ा हुआ हो सकता है और वाद्य यंत्रों की तदनुरूप ध्वनि भी संगीत में गिनी …

Read More »

जानिये । किस कामना की पूर्ति के लिए कौन सी तिथि को रुद्राभिषेक करना चाहिए ?

लोग कहते हैं कि भगवान का नाम कभी भी लिया जा सकता है यह सच है लेकिन साथ ही विशेष अनुष्ठानों के लिये शास्त्रों में कुछ विशेष विधान दिये गये हैं | रुद्राभिषेक के लिये भी शिववास की गणना का विशेष सिद्धान्त है जो नीचे दिया जा रहा है | …

Read More »

ज्योतिष के ये दस गुप्त सूत्र आपके बड़े काम के हो सकते हैं एक बार जरूर पढ़ें ।

निम्नलिखित ज्योतिष के ये 10 सूत्र पंडित योगेश मिश्र द्वारा स्व अनुभूत किए गये है । जो आपके लिए बहुत लाभकारी हो सकते है,विस्तार से पढ़ें । 1- त्रिक भावों के स्वामी यदि 6,8,12 में ही हो या केंद्र त्रिकोण में बलवान राशि में हों तो सारी कुंडली को अधिक …

Read More »

जानिए ! रुद्राभिषेक में प्रयोग किये गये पदार्थ का विधान और पूजन के लाभ ! जरूर पढ़ें ।

रुद्राभिषेक : रूद्र अर्थात भूत भावन शिव का अभिषेक शिव और रुद्र परस्पर एक दूसरे के पर्यायवाची हैं। शिव को ही रुद्र कहा जाता है क्योंकि- रुतम्-दु:खम्, द्रावयति-नाशयतीतिरुद्र: यानि की भोले सभी दु:खों को नष्ट कर देते हैं। हमारे धर्मग्रंथों के अनुसार हमारे द्वारा किए गए पाप ही हमारे दु:खों …

Read More »