Astro & Spritual

पढ़िये भारतीय ज्योतिष – पाश्चात्य (पश्चिमी देशों की ज्योतिष ) से श्रेष्ठ क्यों ? Yogesh Mishra

भारतीय ज्योतिष – पाश्चात्य ज्योतिष से श्रेष्ठ क्यों ? आज कल हम भारतीय ज्योतिष को मिथ और पाश्चात्य ज्योतिष को वैज्ञानिक मान कर उसे अपना रहे हैं जबकि सत्य यह है कि भारतीय ज्योतिष पूर्णतया वैज्ञानिक और अपने मूलभूत आधारों पर स्पष्ट है मात्र इसके प्रचार-प्रसार की आवश्यकता है. पाश्चात्य …

Read More »

जानिए । ज्योतिष में सूर्य का महत्त्व और भूमिका । Yogesh Mishra

ज्योतिष में सूर्य का महत्त्व भारतीय वैदिक ज्योतिष के अनुसार सूर्य को समस्त ग्रहों का राजा माना जाता है और इसे समस्त प्राणी जगत को जीवन प्रदान करने वाली उर्जा का केंद्र भी माना जाता है। सूर्य को ज्योतिष की गणनाओं के लिए पुरुष ग्रह माना जाता है। प्रत्येक व्यक्ति …

Read More »

जानिए । ज्योतिष में चन्द्रमा का महत्व और उसकी भूमिका । Yogesh Mishra

ज्योतिष में चन्द्रमा का महत्व भारतीय वैदिक ज्योतिष में चन्द्रमा को बहुत महत्त्व दिया जाता है तथा व्यक्ति के जीवन से लेकर विवाह और फिर मृत्यु तक बहुत से क्षेत्रों के बारे में जानने के लिए कुंडली में चन्द्रमा की स्थिति का ध्यानपूर्वक अध्ययन करना आवश्यक माना जाता है। उदाहरण …

Read More »

जानिए । ज्योतिष मे मंगल का क्या महत्व है । महत्वपूर्ण जानकारी । Yogesh Mishra

ज्योतिष में मंगल का महत्त्व भारतीय वैदिक ज्योतिष में मंगल ग्रह को मुख्य तौर पर ताकत और मर्दानगी का कारक माना जाता है। मंगल प्रत्येक व्यक्ति में शारीरिक ताकत तथा मानसिक शक्ति एवम मजबूती का प्रतिनिधित्व करते हैं। मानसिक शक्ति का अभिप्राय यहां पर निर्णय लेने की क्षमता और उस …

Read More »

जानिए । ज्योतिष में बुध का महत्व और भूमिका । Yogesh Mishra

ज्योतिष में बुध का महत्व भारतीय वैदिक ज्योतिष में बुध ग्रह को मुख्य रूप से वाणी और बुद्धि का कारक माना जाता है। इसलिए बुध के प्रबल प्रभाव वाले जातक आम तौर पर बहुत बुद्धिमान होते हैं तथा उनका अपनी वाणी पर बहुत अच्छा नियंत्रण होता है जिसके चलते वे …

Read More »

जानिए । ज्योतिष में बृहस्पति का क्या महत्व है । बहुत महत्वपूर्ण जानकारी । Yogesh Mishra

ज्योतिष में बृहस्पति का महत्व भारत को आध्यात्म, तीर्थ स्थानों, मदिरों, तथा साधु-संतों के देश के रूप में जाना जाता है तथा भारतवर्ष के साथ जुड़ीं इन सभी विशेषताओं के कारक ग्रह बृहस्पति हैं जिन्हें ज्योतिष की साधारण भाषा में गुरू के नाम से भी जाना जाता है। भारतीय वैदिक …

Read More »

जानिए । ज्योतिष मे शुक्र का महत्व और भूमिका । Yogesh Mishra

ज्योतिष में शुक्र का महत्व भारतीय वैदिक ज्योतिष में शुक्र को मुख्य रूप से पति या पत्नी अथवा प्रेमी या प्रेमिका का कारक माना जाता है। कुंडली धारक के दिल से अर्थात प्रेम संबंधों से जुड़ा कोई भी मामला देखने के लिए कुंडली में इस ग्रह की स्थिति देखना अति …

Read More »

जानिए । ज्योतिष में शनि का क्या महत्त्व और भूमिका है । Yogesh Mishra

ज्योतिष में शनि का महत्त्व भारतीय ज्योतिष को मानने वाले अधिकतर लोग शनि ग्रह से सबसे अधिक भयभीत रहते हैं तथा अपनी जन्म कुंडली से लेकर गोचर, महादशा तथा साढ़े सती में इस ग्रह की स्थिति और उससे होने वाले लाभ या हानि को लेकर चिंतित रहते हैं तथा विशेष …

Read More »

जानिए ज्योतिष मे केतु का महत्व और भूमिका । Yogesh Mishra

ज्योतिष में केतु का महत्व भारतीय वैदिक ज्योतिष में केतु को आध्यात्मिकता से जुड़ा ग्रह माना जाता है तथा इसका प्रबल प्रभाव जातक को आध्यात्मिक क्षेत्र में बहुत बड़ीं उपलब्धियां प्राप्त करवा सकता है। हालांकि कोई जातक गुरू के प्रभाव के कारण भी आध्यात्मिक क्षेत्र में उपलब्धियां प्राप्त कर सकता …

Read More »

नाभि चक्र ही साधना का आधार है , जानें नाभि से अपने आप को कैसे उन्नत करें ,Yogesh Mishra

नाभि चक्र ही साधना का आधार है नाभि समस्त जीवन चक्र का आधार है. इसलिए साधना मार्ग पर जो साधक आते हैं उन्हें कहा जाता है कि वे नाभि चक्र पर अपने स्वांस को केन्द्रित करें. इसका गहरा अर्थ यह होता है कि जब शिक्षक आपको नाभि पर स्वांस को …

Read More »