Shaivism & Vaishnavism

क्या वास्तविक लंका समुद्र में जल मग्न है : Yogesh Mishra

आपको यह जान कर आश्चर्य होगा कि कभी रावण काल में श्री लंका का भूभाग वर्तमान आस्ट्रेलिया से जुड़ा हुआ था ! रावण की अधिकांश सैन्य छावनी इसी भू भागा में थीं ! जो राम रावण युद्ध में हुये विनाशक परमाणु हमले से बाद 49 टुकड़ों में टूट कर हिन्द …

Read More »

सोने की लंका के निर्माण का वैष्णव इतिहास : Yogesh Mishra

श्रीलंका सरकार ने ‘रामायण’ में आये लंका प्रकरण से जुड़े तमाम स्थलों पर शोध करा कर उसकी ऐतिहासिकता सिद्ध कर उक्त स्थानों को पर्यटन केंद्र के रूप में विकसित कर लिया है ! अब आप श्रीलंका जाकर रावण की लंका को देख सकते हैं ! कहते हैं कि श्रीलंका के …

Read More »

क्या रावण की वास्तविक “रक्ष राष्ट्र” वर्तमान हिन्द महासागर में समा गया था : Yogesh Mishra

तमिल लेखकों के अनुसार आधुनिक मानव सभ्यता का विकास, अफ्रीका महाद्वीप से न होकर हिन्द महासागर में स्थित ‘कुमारी कंदम’ नामक द्वीप में हुआ था ! जो कभी रावण का “रक्ष राष्ट्र” था ! वर्तमान लंका तो मात्र रावण के रक्ष राष्ट्र की राजधानी थी ! हालाँकि इसे अब आधुनिक …

Read More »

क्या प्राचीनतम ज्योतिष के केन्द्र को राम ने समुद्र में डूबा दिया था : Yogesh Mishra

वैष्णव साहित्य से पूर्व के पुरातन शैव ज्योतिष साहित्य में लग्न के निर्धारण के लिये लंका की गणना को ही सर्वश्रेष्ठ माना गया है ! लंका के वर्तमान नक्शे को देखकर यह ज्ञात होता है कि यह भू भाग जो वर्तमान भूमध्य रेखा से 6 डिग्री उत्तर की ओर से …

Read More »

सीता माता को अशोक के पेड़ के नीचे कष्ट में नहीं बल्कि गुफा में समस्त सुख सुविधाओं में रखा था रावण ने : Yogesh Mishra

अशोक वाटिका लंका में स्थित है ! जहां रावण ने माता सीता को राजनैतिक हरण करने के पश्चात समस्त सुख सुविधाओं के साथ रखा था ! लेकिन यह किसी अशोक के पेड़ के नीचे नहीं बल्कि एलिया पर्वतीय क्षेत्र की एक गुफा में समस्त सुख सुविधाओं के साथ सीता माता …

Read More »

आखिर कहां थी रावण की लंका : Yogesh Mishra

अधूरे तथ्यों और ज्ञान के आभाव में आज भी वास्तविक लंका की खोज जारी है ! जिस पर कुछ शोध कर्ताओं का मैने संकलन किया है ! और अंत में अपना निष्कर्ष निकला है ! इस बारे में खोजकर्ता अपने-अपने मत रखते हैं जिनमें वह उन ऐतिहासिक तथ्‍यों को नजरअंदाज …

Read More »

राम के चमत्कार से नहीं बल्कि वैज्ञानिक कारणों से नहीं डूबते थे राम सेतु के पत्थर : Yogesh Mishra

रामसेतु जिसे अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ‘एडेम्स ब्रिज’ के नाम से जाना जाता है ! हिन्दू धार्मिक ग्रंथ रामायण के अनुसार यह एक ऐसा पुल है, जिसे भगवान विष्णु के सातवें अवतार श्रीराम की वानर सेना द्वारा भारत के दक्षिणी भाग रामेश्वरम पर बनाया गया बतलाया जाता है ! जिसका दूसरा …

Read More »

रावण ने हनुमान के पूंछ में आग नहीं लगवाई थी : Yogesh Mishra

न ही हनुमान जी बंदर रूपी जानवर थे और न ही उनके कोई पूंछ लटका करती थी ! बल्कि वह एक अति विद्वान वन नर अर्थात जंगल में रहने वाले मनुष्यों के समूह के व्यक्ति थे ! जिन्होंने बचपन में ही अति मेधावी होने के कारण सूर्य के ज्योतिष सिद्धांतों …

Read More »

राम सेतु का निर्माण राम ने नहीं रावण ने किया था : Yogesh Mishra

भारत के समुद्र विज्ञान के राष्ट्रीय संस्थान के शोधकर्ताओं के अनुसार 7500 साल पहले समुद्र का जल स्तर आज से 100 मीटर नीचे था ! पिछले 7500 साल पहले हुये राम रावण के युद्ध में प्रयोग किये गये अस्त्र शस्त्रों ने पृथ्वी के तापमान को बढ़ा दिया था और उससे …

Read More »

कैसे वैष्णव जीवन शैली शैवों के विपरीत है : Yogesh Mishra

सत्य, सनातन, अनादि, प्राकृतिक शैव जीवन शैली जो कभी समस्त पृथ्वी पर एकमात्र जीवन शैली थी ! इसके विपरीत जब संगठित रूप से नई व्यवस्थित नगरीय वैष्णव जीवन शैली का प्रचार प्रसार वैष्णव लोगों ने किया तो उन्होंने सर्वप्रथम नगरी वैष्णव जीवन शैली के आधार को शैव जीवन शैली के …

Read More »