जानिए : जैविक भोजन ही सर्वश्रेष्ठ क्यों है ?

सनातन ज्ञान पीठ के संस्थापक श्री योगेश कुमार मिश्रा ने आज अपने व्याख्यान में बतलाया कि सनातन जैविक भोजन और सब्जियों के ही सर्वश्रेष्ठ क्यों हैं ! इसके निम्नलिखित कारण बतलाये ! जिसकी वजह से लोग इन्हें पसंद करते हैं !

कोई कीटनाशक दवाएं या रसायन नहीं : भोज्य पदार्थों में खतरनाक कीटनाशक दवाओं का न होना निश्चित रूप से बहुत से जैविक आहार उपभोगताओं के लिए फायदेमंद तो है ही साथ-साथ बहुत सी स्वास्थ्य संबंधी सम्स्याओं से बचने का तरीका भी है ! आदर्शतः बाजार में बिकने वाले आहार में खतरनाक अबशेष नहीं होने चाहिएं परंतु जब नियमों व उन्हें लागू करने मे ढीलापन हो तो यह एक मुद्दा बन जाता है !

पोषक तत्व : जैविक आहार के बहुत से उपभोगता यह मानते हैं कि जैविक तौर से पैदा किए गए फल और सब्जियां अधिक पोषक होती हैं इसलिए परिवार के लिए अति उत्तम होती हैं ! यद्यपि वैज्ञानिक अध्य्यन से इसका स्पष्ट प्रमाण तो नहीं मिला है परंतु उपभोगता सचेत रहने में भलाई समझते हैं ! बढते बच्चों के माता-पिता स्वभाविक तौर पर अपने बच्चों के आहार में पोषक मूल्यों को लेकर विशेषरूप से चिंतित होते हैं !

स्त्रोत की जानकारी होना : कुछ उपभोगता जैविक आहार इसलिए पसंद करते हैं क्योंकि वे यह जानना चाह्ते हैं कि उनका आहार कहां से आता है ! जहां तक फल और सब्जियों का प्रश्न है तो जैविक बाजार में स्थानीय किसान से आहार खरीदना निश्चित ही सही निर्णय रहेगा ! अनाज और मसालों के लिए बहुत से प्रमाणित ब्रांड पैकेजिंग पर उनके स्त्रोत का उल्लेख करते हैं !

पर्यावरणीय चिंताएं : रसायनिक पूरकों पर निर्भर किए बिना जैविक रूप से माइक्रोओरगेनिजम के साथ जोती गई जमीन अधिक उपजाऊ और स्वस्थ होती है ! इसके अतिरिक्त क्योंकि बहुत से जैविक फलों और सब्जियों को मोम जैसे रक्षक उपायों से संसाधित नहीं किया जाता अत: वे शीघ्र ही खराब होने लगते हैं और उन्हें बहुत दूर भी नहीं ले जाया जा सकता जिससे कि उनमें कार्बन निशान घटने लगते हैं ! इससे उनकी मौसमी खपत अधिक होती है जिसके परिणामस्वरूप स्थानीय किस्मों का संरक्षण भी होने लगता है !

मानवोचित देखभाल : जैविक दूध और अण्डों के बहुत से पूर्तीकर्त्ता मानवोचित देखभाल और इनसे जुडे पशुओं और पक्षियों के बेहतर स्तर का वादा भी करते हैं ! गैर-जैविक मांस उत्पाद उन पशुओं से प्राप्त किया जाता है जिन्हें कभी-कभी जबरदस्ती बडा किया जाता है या अन्य पशु उत्पादों पर जीवित रखा जाता है और उन्हें एंटीबॉयटिक व हार्मोनस दिए जाते हैं ! इस प्रकार के मांस उत्पादों से बचाने के लिए जैविक आहार लोगों को सही रास्ता दिखाता है !

अपने बारे में कुण्डली परामर्श हेतु संपर्क करें !

योगेश कुमार मिश्र 

ज्योतिषरत्न,इतिहासकार,संवैधानिक शोधकर्ता

एंव अधिवक्ता ( हाईकोर्ट)

 -: सम्पर्क :-
-090 444 14408
-094 530 92553

Check Also

संबंधों के बंधन का यथार्थ : Yogesh Mishra

सामाजिक दायित्वों का निर्वाह करते करते मनुष्य कब संबंधों के बंधन में बंध जाता है …