Untold Facts

26 जनवरी को ही क्यों मनाया जाता है गणतंत्र दिवस | Yogesh Mishra

भारत में 26 जनवरी खास महत्व रखता है। इसी दिन भारत का संविधान लागू हुआ था यानि देश में कानून के राज की शुरुआत हुई। 26 जनवरी को राष्ट्रीय पर्व का दर्जा प्राप्त है। हर साल इस दिन को हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है। भारत अपने गणतंत्र दिवस के …

Read More »

जानिये कैसे भारत का संविधान ही भारत की सभी समस्याओं का कारण है | Yogesh Mishra

भारत जैसे आध्यात्मिक पृष्ठभूमि वाले देश की तथाकथित आजादी के बाद देश के नागरिकों के हितों को ध्यान में न रखते हुए तत्कालीन देश के राजनीतिक नेताओं ने भारत के संविधान को लागू करने के साथ-साथ भारत के संदर्भ में कई कानूनी भ्रम पैदा किये ! उसमें सबसे बड़ा कानूनी …

Read More »

विभीषण भ्रातद्रोही या राष्ट्रद्रोही नहीं था ! पढ़े पूरा सत्य | Yogesh Mishra

गोस्वामी तुलसीदास द्वारा रचित रामचरितमानस नाट्य ग्रंथ के प्रचलन के साथ एक यह अवधारणा भी फैली कि विभीषण भ्रातद्रोही व राष्ट्रद्रोही था ! रावण के मृत्यु का मूल कारण विभीषण का भगवान श्री राम से मिल जाना था ! इस विषय पर गहन अध्ययन और शोध किया गया ! शोध …

Read More »

नहीं खाये थे राम ने शबरी के जूठे बेर ! जानिये पूरा सत्य | Yogesh Mishra

शबरी की कथा का वर्णन रामायण, भागवत, रामचरितमानस, सूरसागर, साकेत आदि ग्रंथों में मिलती है । सीता की खोज करते हुए जब सीता की खोज में जब राम और लक्ष्मण वर्तमान छत्तीसगढ़ के डांग जिले में सुबीर गांव के निकट पहुँचे तो उनकी भेंट वहां शबरी नामक भीलनी महिला से …

Read More »

राम रावण युद्ध की मूल वजह इन्द्र द्वारा हेमा का अपरहण था ! Yogesh Mishra

रावण जब विश्व विजय अभियान से लौटा तो पूरी लंका में उत्सव का माहौल था ! सभी रावण के पुरुषार्थ और पराक्रम की जय जयकार कर रहे थे, किंतु मंदोदरी उदास थी ! रावण ने जब मंदोदरी से उसकी उदासी का कारण पूछा तो मंदोदरी ने कहा मेरी मां इंद्र …

Read More »

क्या मात्र दलित और विधार्मियों के मत से जीता जायेगा 2019 का चुनाव | Yogesh Mishra

यह जान कर बड़ी हैरत होती है कि सरेआम नाक के नीचे दलितों का बहुत बड़ी संख्या में धर्मान्तरण और दूसरी तरफ दलित हिन्दुओं द्वारा हिन्दू धर्म ग्रन्थों की होली जलाये जाने पर भी सत्ताधीशों की शान्ती | कहीं इस मनमानी ओछी हरकतों के पीछे राजनैतिक कारणों से मौन सहमति …

Read More »

आखिर कौन सिद्ध करना चाहता है कि ब्राह्मण विदेशी हैं ? Yogesh Mishra

1855 मैं जब अंग्रेज पूरे के पूरे भारत से यहां के खजाने, पांडुलिपि और सनातन संस्कृति के समिति चिन्हों को लूटकर इंग्लैंड ले जाने लगे | उस समय जो उनके उपयोग का था उसे अपने पास रख लिया और जो उनके उपयोग का नहीं था उसे अंतरराष्ट्रीय बाजारों में नीलाम …

Read More »

सनातन धर्म के विनाश का मूल कारण भारत के राजनैतिक दल हैं ! Yogesh Mishra

हिंदुओं में एक कमी है वह है ‘अखंड विश्वास’ हमारे शास्त्रों ने हमें इस तरह से प्रशिक्षित किया है कि अखंड विश्वास हमारे संस्कार का मूल अंश बन गया है | चाहे वह किसी पत्थर की बनी मूर्ति के प्रति हो, जीव-जंतुओं के प्रति हो, पेड़-पौधों के प्रति हो, साक्षात …

Read More »

बढ़ा खुलासा | डा भीमराव अम्बेडकर दलित नहीं “महार जाति” के क्षत्रीय योद्धाओं के वंशज थे ? Yogesh Mishra

पेशवा रियासत को कमजोर करने के लिये अंग्रेजो ने “महार जाति” को “शूद्र” घोषित किया था | शायद ही कुछ लोग यह जानते हैं कि “महार” और “राष्ट्र” शब्द से ही “महाराष्ट्र” राज्य की उत्पत्ति हुई है | महार पेशे से अंगरक्षक (क्षत्रीय) थे, इसलिए निर्भीक, साहसी, विश्वसनीय और लड़ाकू …

Read More »

डा अम्बेडकर दलितों के मध्य कभी भी लोकप्रिय नेता नहीं रहे ! Yogesh Mishra

डा अम्बेडकर को उनके जिन्दा रहते दलितों ने कभी भी उन्हें अपने नेता के रूप में नहीं माना ! इस तथ्य की सत्यता इस बात से आंकी जा सकती है कि 6 दिसंबर 1956 को 65 वर्ष की आयु में मरने से मात्र 4 वर्ष पूर्व 1952 में संपन्न हुए …

Read More »