Tag Archives: hindu mythology

महाभारत धर्म युद्ध नहीं भारत के महा विनाश का युद्ध था ! Yogesh Mishra

पाण्डवों और कौरवों ने अपनी सेना के क्रमशः 7 और 11 विभाग अक्षौहिणी में किये ! एक अक्षौहिणी में 21,870 रथ, 21,870 हाथी, 65,610 सवार और 1,09,350 पैदल सैनिक होते हैं ! यह प्राचीन भारत में सेना का माप हुआ करता था ! हर रथ में चार घोड़े और उनका …

Read More »

काल्पनिक मनुवादीयों की ओट में ब्राह्मणों के अस्तित्व पर वास्तविक हमला | Yogesh Mishra

क्या कोई मनुस्मृति विरोधी यह बतला सकता है कि मनुस्मृति के आधार पर कब-कब, किन-किन राजाओं ने शासन चलाया है ! जिन के शासनकाल में दंड व्यवस्था मनुस्मृति के आधार पर निर्धारित की जाती रही हो और मनुस्मृति का सहारा लेकर ब्राह्मणों ने शूद्रों का शोषण किया हो ! यह …

Read More »

जानिये कैसे आर्यों के भय से विकसित हुई थी “वैदिक यज्ञ पद्धति”| Yogesh Mishra

आज से हजारों साल पहले जब मनुष्य प्रकृति के विषय में अज्ञानी था और मनुष्य को अपने को सुरक्षित और संरक्षित करने के संसाधन उसके पास नहीं थे ! तब वह प्राय: प्राकृतिक आपदाओं का शिकार हो जाया करता था ! कभी भयंकर तपती गर्मी में उसके प्राण पखेरू उड़ …

Read More »

हम नकली “गीता” तो नहीं पढ़ रहे हैं ! 700 नहीं 745 शलोक है असली गीता में | Yogesh Mishra

यदि महाभारत का युद्ध धर्म युद्ध था तो युद्ध समाप्त होने के बाद सतयुग अर्थात सत्य का युग आना चाहिये कलयुग अर्थात कलुषित युग क्यों आ गया ! इससे सिद्ध होता है कि महाभारत युद्ध धर्म की स्थापना के लिये लड़ा गया युद्ध नहीं था ! बल्कि इस युद्ध के …

Read More »

भगवान राम की सेना में नहीं था कोई जानवर ! उनके साथ 300 से अधिक राजा लड़ें थे रावण से ! Yogesh Mishra

वैज्ञानिक शोधकर्ताओं के अनुसार भगवान राम के जन्म की तारीख महर्षि वाल्मीकि द्वारा बताए गए ग्रह-नक्षत्रों के आधार पर प्लैनेटेरियम सॉफ्टवेयर से गणना के अनुसार प्रोफेसर तोबयस ने ग्रहों के विन्यास के आधार पर 7130 वर्ष पूर्व अर्थात 10 जनवरी 5114 ईसा पूर्व बतलाया है ! उनके अनुसार ऐसी आका‍शीय …

Read More »

राष्ट्र रक्षा के लिये ब्राह्मणों को ही उठना होगा ! Yogesh Mishra

जिन लोगों ने भारत को लूटा, तोडा, नष्ट किया, वह आज इस देश में ‘अतीत भुला दो’ के नाम पर सम्मानित हैं और एक अच्छा जीवन जी रहे हैं ! जिन्होंने भारत की मर्यादा को खंडित किया, उसके विश्विद्यालयों को विध्वंस किया, उसके विश्वज्ञान के भंडार पुस्तकालयों को जला कर …

Read More »

सम्पूर्ण विश्व में रहा है भगवान श्री राम का प्रभाव !! Yogesh Mishra

सम्पूर्ण विश्व में रहा है भगवान श्री राम का प्रभाव !! विभिन्न देशों की राम कथा यह सिद्ध करती है कि लगभग 3,000 वर्ष पूर्व सम्पूर्ण विश्व में सनातन धर्म ही था ! तभी तो गोस्वामी तुलसीदास जी ने रामचरितमानस में लिखा है कि “हरि अनंत हरि कथा अनंता ! …

Read More »

“शिव लिंग” खड़ा और “वैष्णव लिंग” पड़ा क्यों होता है !!

क्या आपने कभी विचार किया कि मंदिरों में स्थापित शिव लिंग की बिटिया “ऊर्ध्व दिशा” के रूप में सीधी आकाश की ओर खड़ी क्यों होती है और वैष्णव लिंग अर्थात सामान्य बोलचाल की भाषा में “शालिग्राम” की बिटिया लेटी हुई अवस्था में क्यों होती है ? “लिंग” का तात्पर्य शास्त्रों …

Read More »

रावण की हत्या का एक अनकहा सत्य | अवश्य देखें | Yogesh Mishra

रावण “वैष्णव संस्कृति” का विरोधी क्यों था ! “यक्ष” बनाम “रक्ष” संस्कृति जैसा कि हमारे पुराण बतलाते हैं कि भगवान सूर्य का विवाह विश्वकर्मा की पुत्री संज्ञा से हुआ ! विवाह के बाद संज्ञा ने वैवस्वत और यम (यमराज) नामक दो पुत्रों और यमुना (नदी) नामक एक पुत्री को जन्म …

Read More »

राम रावण युद्ध की मूल वजह इन्द्र द्वारा हेमा का अपरहण था ! Yogesh Mishra

रावण जब विश्व विजय अभियान से लौटा तो पूरी लंका में उत्सव का माहौल था ! सभी रावण के पुरुषार्थ और पराक्रम की जय जयकार कर रहे थे, किंतु मंदोदरी उदास थी ! रावण ने जब मंदोदरी से उसकी उदासी का कारण पूछा तो मंदोदरी ने कहा मेरी मां इंद्र …

Read More »