Tag Archives: hindu mythology

कभी मंडूक तंत्र का गढ़ रहा है मेंढक मंदिर : Yogesh Mishra

भारत में बहुत सारें प्राचीन मंदिर है जो कुछ खास वजय से अपनी पहचान बनाये हुये हैं, ऐसा ही एक मंदिर उत्तर प्रदेश राज्य के लखीमपुर खीरी के अंतर्गत ओयल नामक कस्बे में स्थित है जिसका शिवलिंग स्वयं ही रंग बदलता है ! इस मंदिर का नाम “मेंढक मंदिर” भी …

Read More »

भगवान शिव के 12 ज्योतिर्लिंग की कहानी Yogesh Mishra

सनातन धर्म शास्त्रों के मुताबिक़ भगवान शिव अजन्मे है, अनंत है ! पौराणिक मान्यताओं के अनुसार, महादेव शिवशंकर जहाँ-जहाँ स्वयं प्रगट हुए उन बारह स्थानों पर स्थित शिवलिंगों को ज्योतिर्लिंगों के रूप में पूजा जाता है ! शास्त्रों एवं पुराणों के अनुसार शिवजी जहाँ-जहाँ स्वयं प्रगट हुए उन बारह स्थानों …

Read More »

कभी विश्व अराध्य रहे हैं भगवान शिव : Yogesh Mishra

भगवान शिव की पूजा या आराधना एक गोलाकार खड़े पत्थर के रूप में की जाती है ! जिसे पूजा स्थल के गर्भगृह में रखा जाता है ! सिर्फ भारत और श्रीलंका में ही नहीं, भारत के बाहर विश्व के अनेक देशों में शिव की पूजा की जाती रही है ! …

Read More »

अपने भवन का तापमान 12 डिग्री तक कम कर सकते हैं बिना बिजली आदि के खर्च के !! Yogesh Mishra

अपने भवन का तापमान 12 डिग्री तक कम कर सकते हैं बिना बिजली आदि के खर्च के !! सनातन ज्ञान पीठ के पुराने सहयोगी श्री मयंक जी ने शास्त्रों के अध्ययन के उपरांत एक ऐसे रसायन की खोज की है ! जिस को मकान की छत पर लगा देने मात्र …

Read More »

कंप्यूटर ज्योतिष में सहायक है या विनाशक !!

ज्योतिष विज्ञान आज एक निरीह एवं उपेक्षणीय विद्या क्यों है ? आज इस वेदनेत्र को क्यों उपहास का पात्र बनना पड रहा है ? इसके पीछे यद्यपि अनेक कारक है ! लेकिन मेरी समझ में कम्पयूटर आश्रित टीका लगाये, गेरुआ वस्त्र धारण किये तथा लम्बी चोटी बढाये ठग, पाखंडी, कुछ …

Read More »

कौन सी धातु के बर्तन में भोजन करने से क्या क्या लाभ और हानि होती है ! Yogesh Mishra

सोना सोना एक गर्म धातु है ! सोने से बने पात्र में भोजन बनाने और करने से शरीर के आन्तरिक और बाहरी दोनों हिस्से कठोर, बलवान, ताकतवर और मजबूत बनते है और साथ साथ सोना आँखों की रौशनी बढ़ता है ! चाँदी चाँदी एक ठंडी धातु है, जो शरीर को …

Read More »

ज्योतिष में सूर्य को ग्रहों का राजा क्यों कहते हैं ! Yogesh Mishra

ब्रह्मांड में अपनी आकाशगंगा जैसे अनेक तारामंडल हैं ! सौर मंडल के सभी ग्रह सूर्य के प्रकाश से प्रकाशित होते रहते हैं ! यह सभी सूर्य की निरंतर परिक्रमा करते रहते हैं ! हमारी पृथ्वी भी सौरमंडल की एक सदस्य ! है और वह सूर्य से आकर्षित होकर अनवरत उसकी …

Read More »

जानिए कैसे शिव ही अनादि हैं अन्नंत हैं !! Yogesh Mishra

शिव संस्कृत भाषा का शब्द है, जिसका अर्थ है, कल्याणकारी या शुभकारी ! यजुर्वेद में शिव को शांतिदाता बताया गया है ! ‘शि’ का अर्थ है, पापों का नाश करने वाला, जबकि ‘व’ का अर्थ देने वाला यानी दाता ! शिव की दो काया है ! एक वह, जो स्थूल …

Read More »

काशी की राजधानी वाराणसी का नामकरण प्राचीनता !! Yogesh Mishra

पुराणों में इस बात का उल्लेख है कि काशी में भगवान शिव निवास करते हैं ! काशी देवताओं की प्रसिद्ध नगरी है ! काशी को हजारों वर्षों से हमारे देश में अपार श्रद्धा के साथ देखा जाता है ! देश के कोने-कोने से साधु व भक्तजन यहां स्नान के लिए …

Read More »

राष्ट्र के रक्षार्थ : Yogesh Mishra

सनातन धर्मी हिंदू कभी भी इतना कमजोर नहीं था कि उसने शस्त्र का परित्याग कर दिया हो ! प्रमाण के तौर पर आप मंदिरों में किसी भी देवी और देवता को देखिए ! हर एक अपने हाथ में शस्त्र जरूर धारण किए हुए हैं ! शास्त्र भी कहता है “अहिंसा …

Read More »